शालिनी और हनी सिंह का हुआ तलाक हनी सिंह ने भरी मोटी रकम, जानें कितने करोड़ में हुआ समझौता

शालिनी ने कोर्ट में हनी सिंह पर घरेलू हिंसा का आरोप लगाते हुए तलाक की अर्जी दी थी। हनी सिंह ने शालिनी के आरोपों को खारिज किया था।

शालिनी ने लगाए थी हनी सिंह पर घरेलू हिंसा के आरोप

शालिनी और हनी दोनों पक्षों ने कोर्ट के बाहर समझौता कर लिया। समझौते के मुताबिक, हनी सिंह को शालिनी को एक करोड़ रुपये का गुजारा भत्ता देना होगा।

कोर्ट के बाहर हुआ समझौता

शालिनी ने हनी सिंह से तलाक के लिए 10 करोड़ रुपये की गुजारा भत्ता की मांग की थी। लेकिन, दोनों पक्षों के बीच हुए समझौते होने से, सिर्फ एक करोड़ रुपये का गुजारा भत्ता देना होगा।

शालिनी ने मांगी थी 10 करोड़ रुपये की गुजारा भत्ता

शालिनी ने कहा कि वह अपने बच्चे की परवरिश बेहतर तरीके से करना चाहती हैं, जिसके लिए उन्हें पैसों की जरूरत है।

शालिनी ने क्यों मांगी थी इतनी अधिक गुजारा भत्ता?

हनी सिंह ने कहा कि उन्होंने शालिनी को इतनी बड़ी रकम इसलिए दी क्योंकि वह नहीं चाहते थे कि इस मामले को कोर्ट में आगे बढ़ाया जाए।

हनी सिंह ने क्यों दी इतनी बड़ी रकम?

यह एक बड़ा समझौता माना जा रहा है। क्योंकि, आमतौर पर तलाक के मामलों में महिला को अधिक गुजारा भत्ता मिलता है।

क्या यह एक बड़ा समझौता है?

इस समझौते का असर यह होगा कि हनी सिंह और शालिनी का तलाक बिना किसी विवाद के हो जाएगा। इसके अलावा, इस समझौते से दोनों के बच्चे को भी फायदा होगा।

इस समझौते का क्या होगा असर?

इस मामले से हमें कई सीख मिलती हैं पैसा सबकुछ नहीं होता हनी सिंह और शालिनी दोनों ही काफी अमीर हैं। लेकिन, पैसा उनकी शादी को नहीं बचा सका।

इस मामले से क्या सीख मिलती है?

हनी सिंह और शालिनी तलवार का मामला एक दुर्भाग्यपूर्ण मामला है। लेकिन, इस मामले से हमें कई सीख मिलती हैं।

निष्कर्ष