बिहार के तकदीर बदल देने का दावा करने वाले प्रशांत किशोर किसको लाभ पहुँचा रहे है, जाने उनका कैरियर 2024  

5
(1)

आजकल प्रशांत किशोर की चर्चा बिहार में काफी हो रही है। खासकर उनकी बिहार के गाँवों में पदयात्रा के बारे में भी लोग उनके संबंध में चर्चा रहे हैं। आज बहुत से लोग यह जानना चाहते हैं कि आखिर प्रशांत किशोर उर्फ पीके कौन हैं। उनको राजनेताओं को चुनाव जीतने में मदद करने के मामले में बेहद चतुर और प्रतिभाशाली व्यक्ति के रूप में जाने जाते हैं।

Table of Contents

उन्होंने हाल ही में कांग्रेस नामक राजनीतिक पार्टी में शामिल होने से इनकार कर दिया है और इससे बहुत से लोगों में उनके बारे में उत्सुकता बढ़ गई है। कई लोग सोच रहे हैं कि उन्होंने ये फैसला क्यों लिया। आइये जानते हैं कि अचानक बिहार की राजनीति में कुद पड़ने वाले कौन है प्रशांत किशोर, कहाँ के रहने वाले हैं, उनकी शिक्षा क्‍या है।

कौन है प्रशांत किशोर

प्रशांत एक भारतीय रणनीतिकार और राजनीतिज्ञ हैं। उन्‍हें आम बोलचाल में लोग पीके नाम से भी जानते हैं। उन्हें फोर्ब्स इंडिया द्वारा 2020 में नज़र रखने के लिए शीर्ष 20 लोगों में से एक चुना गया था। दिल्ली विधानसभा चुनाव में AAP ने 70 में से 62 सीटें जीतीं और उनकी जीत में प्रशांत किशोर ने बड़ी भूमिका निभाई।

प्रशांत किशोर पदयात्रा करते हुए
प्रशांत किशोर पदयात्रा करते हुए

सरकार के लिए महत्वपूर्ण निर्णय लेने और राजनीति में काम करने में मदद करने वाले व्यक्ति होने के अलावा, वह लोगों को स्वस्थ रखने के बारे में भी बहुत कुछ जानते हैं और उन्होंने लंबे समय तक संयुक्त राष्ट्र में काम किया। प्रशांत किशोर ने विभिन्न स्तरों पर राजनीतिक दलों को कई चुनाव जीतने में मदद की है। इन दिनों वे बिहार के गाँवों की पदयात्रा कर रहें है।

प्रशांत किशोर का जन्‍म और माता-पिता

प्रशांत का जन्म 20 मार्च 1977 को रोहतास जिले के सासाराम के कोनार नामक गाँव में हुआ था। जब वे बहुत छोटे थे तो उनके पिता श्रीकांत पांडेय उन्हें लेकर बक्सर रहने चले गये। उनके पिता बिहार में सरकारी डॉक्टर हैं। उनकी माँ बलिया नामक स्थान से हैं।

इसे भी पढ़ें – एक किसान का बेटा विष्णु देव साय कैसे बने छत्तीसगढ़ के मुख्‍यमंत्री, जानिए इनका जीवन परिचय

प्रशांत किशोर की शिक्षा-दीक्षा

इन्‍होंने अपना प्रारंभिक शिक्षा बक्‍सर जिला से पूरी की और इंजीनियरिंग की पढ़ाई के लिए हैदराबाद चले गए।

प्रशांत किशोर का उम्र

इनका उम्र 2024 में 47 वर्ष है।

प्रशांत किशोर की संक्षिप्‍त जीवनी

प्रसिद्ध नामप्रशांत किशोर
पूरा नामप्रशांत किशोर
उपनामपीके
जन्‍म तिथि20 मार्च 1977
जन्‍म स्‍थानकुरान गांव, रोहतास जिला, बिहार
गृहनगरबक्सर, बिहार
उम्र47 वर्ष
मातापता नहीं
पिताश्रीकांत पांडे (डॉक्टर)
भाईपता नहीं
बहनपता नहीं
राष्‍ट्रीयताभारतीय
जातिब्राह्मण
धर्महिंदू
पेशाराजनीतिज्ञ और रणनीतिकार
शैक्षणिक योग्‍यतापता नहीं
स्‍कूलउन्होंने बिहार के एक सरकारी स्कूल में पढ़ाई की
कॉलेजपटना साइंस कॉलेज, बिहार
वैवाहिक स्थितिविवाहित
पत्‍नीजाहन्वी दास (डॉक्टर)
बाल-बच्‍चेदैबिक
लंबाई175 सेमी, 5 फिट 9 इंच
वजनपता नहीं
आंखो का रंगकाला
बालो का रंगकाला
कुल संपत्ति$5 मिलियन

प्रशांत किशोर का करियर

कुछ समय पहले तक किसी को नहीं पता था कि प्रशांत नाम का कोई शख्स राजनीति में है या नहीं। लेकिन 2014 में जब उन्होंने नरेंद्र मोदी को देश का प्रधानमंत्री बनने में मदद की तो लोगों ने उन्हें भी नोटिस करना शुरू कर दिया।

प्रशांत ने 2011 में गुजरात में नरेंद्र मोदी को चुनाव जीतने में मदद करने के लिए अफ्रीका में संयुक्त राष्ट्र में अपनी अच्छी-खासी तनख्वाह वाली नौकरी छोड़ने का फैसला किया।

जब प्रशांत ने राजनीतिज्ञों के लिए रणनीति बनाने काम करना शुरू किया, तो राजनीतिक दलों के बारे में यह सोचना आम हो गया कि वे फैंसी और महत्वपूर्ण ब्रांड हैं।

इसे भी पढ़ें – एक स्‍टोरकीपर का काम करने वाले मनोहर लाल खट्टर कैसे बने मुख्‍यमंत्री, जानिए इनका जीवन परिचय

प्रशांत किशोर को नारेंद्र मोदी से कैसे मुलाकात हुई

प्रशांत किशोर नारेंद्र मोदी के साथ
प्रशांत किशोर नारेंद्र मोदी के साथ

चाड में अपना समय समाप्त करने और जिनेवा जाने के लिए तैयार होने के बाद, प्रशांत किशोर ने एक पेपर लिखा कि कैसे भारत में कुछ अमीर और तेजी से विकसित हो रहे राज्यों में बच्चों को पर्याप्त भोजन नहीं मिलने की समस्या है। उन्होंने हरियाणा, कर्नाटक, महाराष्ट्र और गुजरात को देखा कि वे कैसे तुलना करते हैं।

गुजरात इस सूची में आखिरी स्थान पर था। और अभी, प्रशांत किशोर को गुजरात के मुख्यमंत्री कार्यालय (नरेंद्र मोदी के कार्यालय) से फोन आया कि इतने सारे लोग नकारात्मक बातें क्यों कह रहे हैं।

नरेंद्र मोदी ने पीके को गुजरात में उनके साथ काम करने के लिए कहा, जिसने प्रशांत किशोर के लिए एक नए अध्याय की शुरुआत की।

CAG और 2014 का आम-चुनाव अभियान

2013 में, किशोर ने मई 2014 में भारत में बड़े चुनाव में मदद करने के लिए सिटीजन्स फॉर अकाउंटेबल गवर्नेंस नामक एक समूह शुरू किया।

किशोर वह व्यक्ति हैं जो नरेंद्र मोदी को बढ़ावा देने में मदद करने के लिए चतुर विचार लेकर आए। उन्होंने चाय पर महत्वपूर्ण विषयों पर बात करना, बड़ी सभाओं के लिए 3डी तकनीक का उपयोग करना और एकता दिखाने के लिए दौड़ आयोजित करना जैसे मनोरंजक कार्यक्रम बनाए। उन्होंने इन घटनाओं के बारे में प्रचार-प्रसार करने के लिए सोशल मीडिया का भी इस्तेमाल किया।

नरेंद्र मोदी के बारे में किताब लिखने वाले निरंजन मुखोपाध्याय ने कहा कि किशोर एक बहुत महत्वपूर्ण व्यक्ति थे जिन्होंने 2014 के चुनावों से पहले मोदी की रणनीति बनाने में मदद की थी।

इसे भी पढ़ें – अभिनेत्री से राजनीति में आई स्‍मृति ईरानी की जीवन-गाथा, जानिए उनके करियर, प्रेम संबंध और नेट वर्थ

पंजाब विधानसभा चुनाव परिणाम 2017

2016 में, किशोर किशोर को अमरिंदर सिंह नामक नेता की सहायता करने के लिए चुना गया था। ऐसा इसलिए किया गया क्योंकि कांग्रेस पिछले दो चुनावों में सफल नहीं रही थी।

पंजाब में चुनाव जीतने में मदद करने वाले लोगों ने इसका श्रेय टीवी चैनलों और प्रशांत किशोर नाम के एक शख्स और उनकी टीम को दिया। कांग्रेस पार्टी के कुछ नेताओं ने भी जीत में अहम भूमिका के लिए किशन की सराहना की। सिंह ने पीके और उनकी टीम को पंजाब में जीत दिलाने में उनके काम के लिए धन्यवाद भी दिया।

आन्ध्र प्रदेश चुनाव परिणाम 2019

प्रशांत किशोर वाइ. एस. जगमोहन रेड्डी के साथ
प्रशांत किशोर वाइ. एस. जगमोहन रेड्डी के साथ

प्रशांत किशोर को मई 2017 में वाईएस जगनमोहन रेड्डी को उनके राजनीतिक निर्णयों में मदद करने के लिए चुना गया था। आई-पीएसी नामक एक समूह विचार लेकर आया और वाईएसआरसीपी के समरला संवरवरम, अन्ना पिलुपु और प्रजा संकल्प यात्रा जैसे चुनाव अभियानों के लिए योजनाएं बनाईं। वे लोगों को वाईएसआरसीपी के बारे में अलग तरह से सोचना चाहते थे। और उनके प्रयासों के कारण, वाईएसआरसीपी ने चुनाव में बहुत सारी सीटें जीतीं – 175 में से 151 जीता!

प्रशांत किशोर के बारे में कुछ रोचक तथ्‍य

प्रशांत किशोर भारत में राजनेताओं को उनकी योजनाओं में मदद करते हैं। वह 2022 में एक राजनीतिक दल की बड़ी नौकरी की पेशकश को ना कहने के लिए जाने जाते हैं।

प्रशांत किशोर के बिहार के घर पर सरकार चलाइ बुल्‍डोजर—बिहार के बक्सर में सरकार ने चौड़ी सड़क बनाने के लिए चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर के पुराने पारिवारिक घर की दीवारें तोड़ दीं। कई लोगों ने देखा कि अधिकारियों ने घर की दीवारों और पवित्र ब्रह्मा स्थान को गिराने के लिए बुलडोजर का इस्तेमाल किया। सरकार सड़क का विस्तार कर रही है, इसलिए उन्हें प्रशांत किशोर के परिवार की कुछ जमीन लेने की जरूरत है। अधिकारियों ने एकत्रित भीड़ को समझाया कि वे दीवारें क्यों गिरा रहे हैं और सभी देखते रहे कि काम कम समय में पूरा हो गया।

भारतीय राजनीति में महत्वपूर्ण निर्णय लेने में मदद करने से पहले वह आठ वर्षों तक संयुक्त राज्य अमेरिका में संयुक्त राष्ट्र में लोगों को स्वस्थ रखने में मदद करते थे।

2011 में उन्होंने नरेंद्र मोदी के पहले अभियान में उनकी मदद की थी। 2012 के चुनाव में नरेंद्र मोदी गुजरात के नेता बने।

वर्ष 2020 में, उन्होंने किसी भी राजनीतिक समूह का समर्थन न करने का विकल्प चुना। इसके बजाय, उन्होंने बात बिहार की अभियान के बारे में 10 लाख युवाओं से बात करने की योजना बनाई। इस अभियान का उद्देश्य लोगों को बिहार में हो रही प्रगति के बारे में बताना है।

3 फरवरी, 2020 को, द्रविड़ मुनेत्र कड़गम नामक एक राजनीतिक दल ने 2021 में तमिलनाडु में एक महत्वपूर्ण चुनाव के लिए अपनी योजनाओं में मदद करने के लिए प्रशांत नाम के एक व्यक्ति को चुना।

2021 में, उन्होंने पश्चिम बंगाल में एक महत्वपूर्ण चुनाव जीतने के लिए ऑल इंडिया तृणमूल कांग्रेस नामक राजनीतिक पार्टी की मदद की।

प्रशांत किशोर का वैवाहिक स्थिति

रणनीतिकार प्रशांत किशोर विवाहित पुरूष हैं। उनका पत्‍नी का नाम जाह्नवी दास जो की एक डॉक्‍टर है। वे असम की रहने वाली है।

प्रशांत किशोर का सोशल मिडिया

प्रशांत किशोर सोशल मिडिया पर काफी सक्रिय रहते है। इनका सोशल मिडिया प्रोफाइल फेसबुक, ट्वीटर, इंस्‍टाग्राम पर है।

ऐसे सवाल जो, लोग अक्‍सर पूछते हैं (FAQ)

प्रशांत किशोर का जन्म कब हुआ था?

इनका जन्म 20 मार्च 1977 को हुआ था।

प्रशांत किशोर के पार्टी का क्या नाम है?

इनकी पार्टी का नाम जन सुराज है।

क्या प्रशांत किशोर डॉक्टर है?

नहीं, प्रशांत किशोर एक भारतीय रणनीतिकार और राजनीतिज्ञ है।

प्रशांत किशोर का उम्र क्‍या है?

इनका उम्र 2024 में 47 वर्ष है।

प्रशांत किशोर का पिता का नाम क्‍या है?

इनका पिता का नाम श्रीकांत पांडे है।

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 5 / 5. Vote count: 1

No votes so far! Be the first to rate this post.

error: Content is protected !!
बॉलीवुड के 10 सबसे अमिर अभिनेता, जिनका नेट वर्थ आपको कर देगी हैरान केरल में “सालार मूवी” 300+ स्‍क्रीन्‍स पर आज 6 बजे लाइव रिलीज होगी कैटरीना कैफ, विक्की कौशल के साथ एक्शन फिल्म करने को हैं बेताब अपने कठिन मेहनत के बल पर जिरो से हिरो बने भारतीय फिल्म स्टार जानिए 2023 का मिस यूनिवर्स का खिताब कौन जीता ये पांच भारतीय अरबपति, जो छोटे गांवों में रहकर करते है अरबो का कारोबार बॉलीवुड की मशहूर निर्देशिका फराह खान की वापसी शालिनी और हनी का हुआ तलाक, हनी ने भरी मोटी रकम जानें कैसे हुआ समझौता कमल हासन और मणि रत्नम की नई फिल्म थग लाइफ का टीज़र हुआ रिलीज़, धमाकेदार एक्‍सन के साथ रश्मिका मंदाना का डीपफेक वीडियो वायरल, अमिताभ बच्चन ने जताई चिंता अनूष्का और विराट की लग्जवरी लाइफ देखकर आप भी चौक जाएंगे। चंडीगढ़ में अरिजीत सिंह के शो को मिली मंजूरी, होंगे लाइव शो, देखना मिस मत करें जानिए पाकिस्तान की पहली मिस यूनिवर्स एरिका रॉबिन को पहले शादी से इंकार करने वाली विद्या बालन की जीवन-यात्रा बागेश्वर धाम 2023 में धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री के अनकही यात्रा की कहानी